July 22, 2024

baatmuddeki

baatmuddeki

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने ग्राम्य विकास विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

विभागीय मंत्री गणेश जोशी ने की ग्राम्य विकास विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक।।

विभाग द्वारा संचालित योजनाओं पर विस्तार से की गई चर्चा।।

ग्राम्य विकास विभाग के अंतर्गत संचालित केंद्र पोषित योजनाओं के बारे में ली जानकारी।।

साथ ही पीएमजीएसवाई के निर्माण कार्यो में अधिकारियों को तेजी लाने के निर्देश।।

योजना के तहत सड़क निर्माण कार्यो को तय समय सीमा में पूरा करने के भी निर्देश।।

वही अधिकारियों के मुताबिक 13500 परिवारों को आजीविका पैकेज के अंतर्गत जोड़ा जा चुका है।।

मंत्री गणेश जोशी द्वारा केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को समय से पूरा करने के निर्देश दिए।।

यहाँ पढ़े खबर विस्तार में

विभागीय मंत्री गणेश जोशी ने ग्राम्य विकास विभाग के अंतर्गत संचालित केन्द्र पोषित योजनाओं ( महात्मा गॉधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारन्टी योजना, दीनदयाल अन्त्योदय योजना- एन.आर.एल.एम.ए प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना आदि अन्य योजनाएं), राज्य पोषित योजनाओं ( प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, मेरा गांव मेरी सड़क, मुख्यमंत्री सीमान्त क्षेत्र विकास योजना तथा वाह्य सहायतित योजना (एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना) के बारे में अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मंत्री जोशी ने बैठक के दौरान पीएमजीएसवाई के निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। मंत्री जोशी ने पीएमजीएसवाई के अंतर्गत सभी सड़को के कार्यों को तय समय सीमा के भीतर कार्य करने के निर्देश दिए।

मंत्री ने अधिकारियों को पीएमजीएसवाई की सड़को पुलों का निर्माण भवनों के निर्माण समय सीमा के भीतर पूर्ण किए जाए। उन्होंने अधिकारियों को भविष्य की दीर्घकालिक योजनाओं की चुनौतियों और समाधान को लेकर भी आवश्यक दिशा निर्देश। मंत्री ने अधिकारियों को ग्रामीण क्षेत्रों में स्थानीय लोगों का कार्य मिल सके इसके लिए एक कार्य योजना तैयार करने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए गए। मंत्री ने कहा किसी भी विभाग का ग्रामीण क्षेत्र में निर्माण का कार्य चल रहा हो उसमे स्थानीय ग्रामीण वासियों को प्राथमिकता दी जाए। उन्होंने विभागीय अधिकारियों के साथ आपसी समन्वय बनाकर एक ठोस रणनीति बनाने के भी अधिकारियों को निर्देशित किया।