June 24, 2024

baatmuddeki

baatmuddeki

SDRF सेनानायक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली रेस्क्यू टीमों की समीक्षा बैठक

सेनानायक SDRF मणिकांत मिश्रा द्वारा SDRF वाहिनी जॉलीग्रांट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से फ्लड रेस्क्यू टीमों/आपदा राहत/ जल पुलिस के साथ सर्च एंड रेस्क्यू अभियानों की समीक्षा हेतु गोष्ठी का आयोजन किया गया। सेनानायक SDRF श्री मणिकांत मिश्रा ने वर्तमान में डूबे हुए व्यक्तियों की खोजबीन हेतु चलाये जा रहे सर्च एंड रेस्क्यू अभियानों का फीडबैक लेकर समीक्षा की।

गोष्ठी में सेनानायक SDRF मणिकांत मिश्रा ने टीम प्रभारियों को निर्देशित किया कि भीड़-भाड़ एवं पीक ऑवर के दौरान नदी किनारे व घाटों में सतर्क होकर ड्यूटी करे। इसी क्रम में उन्होंने रेस्क्यू अभियानों में तेजी लाने एवं नदी किनारे आम पर्यटकों को जागरूक करने हेतु फ्लड रेस्क्यू टीमों/आपदा राहत/ जल पुलिस को निम्न दिशानिर्देश दिए-

  1. चारधाम यात्रा में अत्यधिक श्रद्धालु आने एवं अधिक गर्मी होने के कारण हरिद्वार, ऋषिकेश एवं अन्य पिकनिक स्थलों पर पर्यटकों की भीड़ बढ़ गयी है। उन्होंने कहा कि नदियों या घाटों पर नहाते समय पर्यटकों द्वारा संभावित खतरे को दरकिनार करते हुए गहरे पानी में जाने का जोखिम उठाया जा रहा है उन्होंने रेस्क्यू दल से कहा कि पर्यटकों को सुरक्षित स्थानों पर ही स्नान करने की सलाह दें।
  2. ऐसे स्थानों को चिन्हित किया जाए जहाँ डूबने की घटनाएं ज्यादा हो रही है अथवा डूबने का खतरा ज्यादा है, वहाँ पर स्थानीय पुलिस के साथ समन्वय स्थापित कर पीक टाइम में अतिरिक्त जवानों को नियुक्त किया जाए तथा गश्त करते रहें जिससे डूबने की घटनाओं में तत्काल रेस्क्यू किया जा सके
  3. राफ्टिंग गाइड का कार्य कर रहे युवकों को प्राथमिक उपचार का प्रशिक्षण देने हेतु निर्देशित किया गया ताकि वें राफ्टिंग के दौरान पर्यटकों को त्वरित प्राथमिक उपचार प्रदान कर मदद कर सके .
  4. जनपद हरिद्वार में चल रहे रेस्क्यू सर्चिंग ऑपरेशन हेतु एक अतिरिक्त सर्चिंग सब टीम तैनात करने के निर्देश के साथ ही हरकी पैड़ी, बैरागी पुल, प्रेमनगर आश्रम इत्यादि स्थानों पर सर्चिंग हेतु अंडर वाटर ड्रोन सर्विलांस का प्रयोग करने हेतु कहा।
  5. डाकपत्थर बैराज व यमुना नदी में पर्यटकों की बहुत भीड़ बढ़ रही है। सम्बंधित टीम प्रभारी को संवेदनशील स्थानों को चिन्हित कर वहां पर रेस्क्यू टीम तैनात करने के निर्देश दिए
    सेनानायक SDRF मणिकांत मिश्रा द्वारा सभी प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि डूबने की घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए सतर्कता आवश्यक है, ऐसे स्थानों पर लोगो को भी जागरूक करते रहे, फिसलन भरे स्थानों या खतरनाक स्थानों पर सेल्फी न लेने दे। इस मौके पर श्री बिजेंद्र दत्त डोभाल, उप सेनानायक, श्री श्याम दत्त नौटियाल, सहायक सेनानायक व श्री प्रमोद रावत, निरीक्षक उपस्थित रहे।